पोस्टमार्टम कैसे किया जाता है? पोस्टमार्टम करने वाले कर्मचारी ने किए हैरान करने वाले खुलासे।

Post mortem room inside story

पोस्टमार्टम का नाम सुनते ही हमारे मन में डर लगने लगता है। लेकिन सोचिये जो इसे करते है उनके ऊपर क्या बितती होगी। हम आपको पोस्टमार्टम करने वाले कर्मचारी के अनुभव को बताने जा रहे है। Alexandria Bowser, जिन्होंने अपना एक्सपीरियंस पोस्टमार्टम के ऊपर शेयर किया और पोस्टमार्टम रूम के अंदर की बातो को बताया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट कैसे तैयार होती?

Postmortem Room Story

आम तौर पर एनाटोमिकल पैथोलॉजी टेक्नोलॉजिस्ट और पैथोलॉजिस्ट द्वारा पोस्टमार्टम किया जाता है। इसमें पता लगाया जाता है कि मौत की असल वजह क्या है, मरने के पीछे इसकी क्या वजह रही है। इस दौरान शरीर की चोटों के निशान भी रिपोर्ट में दिए जाते है।

पोस्टमार्टम के बाद?

kaise hota hai post mortem

पैथोलॉजी टेक्नोलॉजिस्ट अलेक्जेंड्रिया ने बताया की पोस्टमार्टम करने के बाद और रिपोर्ट तैयार करने के बाद सभी अंगों को वापस बॉडी में रख दिया जाता है। इसे रखने के लिए लिनन का उपयोग किए जाता है। और बॉडी को फ्रिज में रखा जाता है। यह पूरी प्रक्रिया को करने में लगभग एक घंटे का समय लगता है।

आसान नहीं है ये जॉब

post mortem

अलेक्जेंड्रिया बताती हैं, की यह काम जितना सरल लगता है, उतना बिल्कुल भी आसान नहीं होता है। कई बार बॉडी क्षत विक्षत होती है, ऐसे में पोस्टमार्टम करना बेहद चैलेंजिग रहता है। जिसे देखकर डर भी लगने लगता है। उन्होंने कहा कि भावनात्मक तौर पर सुसाइड के मामलों में पोस्टमार्टम बेहद तकलीफदेह रहता है।

रसोई के सामान का पोस्टमार्टम में उपयोग किया जाता है।

kaise hota hai post mortem (1)

अलेक्जेंड्रिया ने खुलासा किया कि पोस्टमार्टम के लिए स्पंज, चाकू, कैंची के साथ-साथ कई बार करछुल का भी उपयोग करते हैं, जो हमारे किचन में भी उपलब्ध रहते है। हालांकि, Specialist Equipment जैसे कि रिब शीयर, ऑसिलेटिंग आरी और टांके लगाने वाली सुई और धागे का उपयोग अहम होता है। इसके लिए हर बार नए सामान का उपयोग नहीं किया जाता है।

पोस्टमार्ट करने वालों के लिए समय की सीमा नहीं होती है।

post mortem

अलेक्जेंड्रिया कहती हैं इस काम में आप घड़ी नहीं देख सकते, आपको कभी भी हॉस्पिटल से कॉल आ जाता है और आपको जाना पड़ता है। एक दिन में छह-छह पोस्टमार्टम करने पड़ते हैं, साथ ही बड़ी कागजी कार्रवाई और सफाई भी करनी पड़ती है। यह जॉब मानसिक और शारीरिक तौर पर मजबूत रहने वाले ही कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top